वर्ष 2021 अच्छे और सुखद खबरों का आगाज लेकर आया है पहले जहां वैक्सीन की खबरों से शुरुआत हुई उसके बाद शेयर बाज़ार में उछाल नज़र आया वहीं अब राजस्थान में सरकार स्कूलों और कॉलेजों में के साथ शिक्षण संस्थाओं को खोलने की तैयारी में है।

इस खबर से स्कूलों में उत्साह का माहौल बन रहा है। अभिभावक भी थोड़े आश्वस्त नज़र आ रहे हैं, जिंदगी एक बार फिर से अपनी राह पर चलती दिखाई पड़ रही है।

कोरोना काल मे हुए शिक्षा के अभाव और अपूरित क्षति को भरने में जहां ना चाहते हुए भी ऑनलाइन कक्षाओं के सहारे स्कूलें और अभिभावको ने बुरा समय बिताया अब उस संक्रमण काल से उबरते हुए एहितयात बरतते हुए पिछले कई महिनो से बंद पड़े राज्य के सरकारी व निजी स्कूल कॉलेज और कोचिंग वाली जगहों को खोलने के बारे में फैसला आ चुका है अब ये सभी जगहें18 जनवरी से खुल सकेगी । मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने आज यह फैसला लेते हुए निजी शिक्षण संस्थाओं के संचालकों को भी इस राहत भरे फैसले से अवगत करवाया है।

आदेशानुसार 9 से लेकर 12वीं तक की कक्षाओं को स्कूलों में खोल दिया जाएगा और साथ ही साथ तथा मेडिकल,डेंटल,नर्सिंग,पैरामेडिकल कॉलेज 11 जनवरी से ही खुल सकेंगे।

जिस तरह से सरकारी आदेश आने का अंदेशा है और सूत्रों की माने तो प्रदेश की सभी छोटी बड़ी स्कूल और निजी सरकारी कॉलेज और कोचिंग संस्थानों में छात्रों की 50% उपस्थिति हो सकेगी और साथ ही बाकी बचे 50% छात्र अगले दिन पढ़ सकेंगे इस तरह रोटेशन प्रणाली द्वारा शिक्षा के द्वार खुलेंगे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here