आपतालीन स्थितियों में इस्तेमाल की अनुमति मिलने के बाद एस्ट्राजेनेका बनेगी भारत की पहली कोरोना वैक्सीन!!

0
497

Breaking | Serum Institute of India’s vaccine Covishield gets SEC’s approval for emergency use.

आज दिनांक 1 जनवरी 2021 को भारत में वैक्सीन अप्रूवल को लेकर एक बड़ी मीटिंग चल रही है और रिपोर्ट्स आ रही है और इशारा कर रही है कि लगभग पहली वैक्सीन पर फैसला आने ही वाला है. सूत्रों के अनुसार एस्ट्राजेनेका वैक्सीन भारत की पहली कोरोना वैक्सीन बनने से कुछ ही कदम दूर है और इसका इमरजेंसी इस्तेमाल किया जा सकेगा. यह निर्णय बहुप्रतीक्षित था.

फाइजर, सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया और भारत बायोटेक ने DCGI के समक्ष अपनी वैक्सीन ट्रायल का डाटा सबमिट कर इसके लिए आवेदन माँगा था और कुछ दिनों भारतीय औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) वी.जी. सोमानी ने कहा था नए साल पर हाथ खाली नहीं रहेंगे. इस से इशारा मिला था कि नए वर्ष को लगभग किसी ना किसी वैक्सीन को इसका अप्रूवल अवश्य मिल जायेगा.

वैक्सीन पर मीटिंग

केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (CDSCO सीडीएससीओ) द्वारा एक्सपर्ट कमिटी का गठन किया गया है जिसकी मीटिंग आज हुई है इसमें ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और भारत बायोटेक की वैक्सीन को दिए जाने के आसार बताये जा रहे थे. जिसमें से एस्ट्राजेनेका को इसकी अनुमति मिलने ही वाली है.

वही एम्स के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने भी वैक्सीन कुछ दिनों में उपलब्ध होने की बात कही थी और लगभग पहले हफ्ते में ही आवश्यक और महत्वपूर्ण लोगो जैसे वृद्ध और फ्रंट लाइन हेल्थ वर्कर्स को इसका टीका सबसे पहले दिया जायेगा.

वैक्सीन पर राजनीती

इसी के साथ इस पर विपक्ष द्वारा राजनीती तेज होने की भी सम्भावना है जिसमे विपक्ष सत्ताधारी भाजपा सरकार पर हर हाल में आरोपों की बौछार करने के लिए आतुर है जिसमे वैक्सीन सभी को फ्री में उपलब्ध करवाने की बात कहने वाली है ताकि यदि फ्री में यदि कम पैसे वाली वैक्सीन मिली तो अच्छी वाली वैक्सीन क्यों यूज़ नहीं की और महंगे वाली वैक्सीन ली तो इतना पैसा कहा से आएगा जैसे आरोप लगाए जायेंगे.

भाजपा ने बिहार में सभी को फ्री वैक्सीन उपलब्ध करवाने की बात कह कर इसमें अपना चुनावी हित साधा था मगर देश में सबको फ्री वैक्सीन पर यह जवाब दिया की टीका सभी को उपलब्ध करवाया जायेगा. मगर कीमतों पर कोई टिप्पणी करने से बच रहे थे.

दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान

भारत में दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू होने जा रहा है जिसका ट्रायल काफी दिनों से चल रहा था इस खबर के बाद साल सकारात्मक शुरुआत हुई है और जल्दी ही देश के लोगो को इस कोरोना नामक वैश्विक महामारी से निजात मिलेगी और जिन्दगी फिर अपनी राह पर चल पड़ेगी.

एस्ट्राजेनेका कोरोना वैक्सीन की कीमत कितनी होगी ?

अदार पुनावाला ने इसकी कीमत को बताते हुए कुछ समय पहले निजी मार्किट में Rs 700-800.और सरकारी इस्तेमाल के लिए इसकी दो डोज की कीमत करीब 440/- रुपये बताई.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here