होम Crime सोमनाथ भारती की गिरफ्तारी और 14 दिनों की न्यारिक हिरासत

सोमनाथ भारती की गिरफ्तारी और 14 दिनों की न्यारिक हिरासत

0
सोमनाथ भारती की गिरफ्तारी और 14 दिनों की न्यारिक हिरासत

सोमनाथ भारती यूपी में अभद्र बोल कर AAP नेता सोमनाथ भारती फंस गए हैं और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है साथ ही न्यायिक हिरासत में भेज कर उनकी तकलीफ और बढ़ गई है. आम आदमी पार्टी के विवादित और पूर्व में मंत्री पद से बेदखल हो चुके नेता ने विवादित बयान देते हुए योगी की मौत निश्चित है जैसे शब्दों का प्रयोग भी किया था.

जो विडियो सामने आया उसमे बड़ी ही अभद्रता के साथ एक अधि भाषा में बात करने वाले पुलिस अफसर पर अपना रोब झाड़ते हुए विवादित नेता सोमनाथ भारती देखे जा सकते हैं. उन पर किसी असामाजिक तत्व द्वारा स्याही फेंके जाने की घटना भी सामने आई है.उन्होंने पुलिस अधिकारी को वर्दी उतरवा दूंगा जैसे शब्द भी कहे.

सोमनाथ भारती की वीडियो

सोमनाथ भर्ती के विवाद

भाषायी शालीनता से कौसो दूर फटकने वाले इस नेता को पहले भी जेल की यात्रा करनी पड़ चुकी है.

दबी जुबान में कई लोगो का कहना है कि ऐसे हथकंडे आम आदमी पार्टी खूब करवा सकती है. जिन्हें दिल्ली के बाद दुसरे राज्यों में अपनी उपस्थिति दर्ज करवाने का खुमार चढ़ा हुआ है. सोमनाथ भारती इस से पूर्व भी कई दफा विवादों में फंस चुके हैं जब वो मंत्री थे तब बिना किसी परमिशन के रेड डालने पंहुच गए थे.

सोमनाथ भारती खिड़की एक्सटेंशन विवाद

खिड़की एक्सटेंशन पर हुई रेड में महिलाओं से देर रात मारपीट करने, गैरकानूनी तरीके से एकत्रित होने, दंगे करने एवं भीड़ को उकसाने का आरोप भी उन पर लगे हुए हैं और आम आदमी पार्टी द्वारा पूर्व में उनके विवादों में जुड़े होने के कारण मंत्री पद से हटाया जा चूका है.

सोमनाथ भारती दिल्ली की पत्नी लिपिका मित्रा ने भी उन पर घरेलू हिंसा का मामला दर्ज करवाया था जिसकी मध्यस्तता के चलते दर्ज हत्या के प्रयास, उत्पीड़न धोखाधड़ी, आपराधिक धमकी, महिला की सहमति के बिना गर्भपात जैसे आपराधिक मामलो से सोमनाथ भारती wife के बीच मध्यस्थता करने पर बरी किया गया था.

ये सोमनाथ भारती कौन है ?

पेशे से वकील माने जाने वाली ये सोमनाथ भारती दरअसल आम आदमी पार्टी के नेता हैं जिनकी पार्टी अक्सर विवादों का सहारा लेकर मौकापरस्त राजनीति करने में माहिर मानी जाती है. वैसे आपको जानकारी के तौर पर बता दें कि मंत्अरी बनने के बाद उन्होंने प्रैक्टिस करने का अपना लाइसेंस दिल्ली बार एसोसिएशन को लौटा दिया था।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के कई अन्य नेताओ पर समय समय पर स्याही फेंके जाने के नज़ारे सामने आये है.

आम आदमी पार्टी विवाद

आम आदमी पार्टी में भी विवादित और भ्रष्ट नेताओ की कोई कमी नहीं है उनके पूर्व कानून मंत्री जितेंद्र सिंह तोमर की फर्जी डिग्री मामले में गिरफ्तारी हो चुकी है. आम आदमी के प्रमुख नेता अरबिंद केजरीवाल ने अन्ना हजारे आन्दोलन में शामिल होने से लेकर होकर दिल्ली का मुख्यमंत्री बनने के राजनीति के सपने को साकार किया.

आत्ममुग्ध बौने के रूप में परिभाषित कर उन पर अक्सर तंज कसने वाले कुमार विश्वास के साथ कुछ और पार्टी के नेताओं ने इस पार्टी से किनारा कर लिया जिसमे कथित एक्टिविस्ट योगेन्द्र यादव और प्रशांत भूषण के साथ कई नेताओ की लम्बी फेहरिश्त है.अब केजरीवाल स्वय दूसरी पार्टियों के पिछलग्गू बन कर रह गए.

कोई टिप्पणी नहीं है

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exit mobile version