होम News श्री राम मंदिर निर्माण हेतु नरसी कुलरिया ने दिए सवा दो करोड़...

श्री राम मंदिर निर्माण हेतु नरसी कुलरिया ने दिए सवा दो करोड़ रुपये

0
नरसी कुलरिया उद्योगपति

अयोध्या में बनने जा रहे भव्य श्री राम मंदिर हेतु प्रसिद्ध उद्योगपति नरसी कुलरिया ने अपनी श्रद्धापूर्वक दान देते हुए 2.25 करोड़ रुपये की राशि भेंट की। विश्व हिंदू परिषद की तरफ से चलाए गए इस अभियान जिसे निधि समर्पण महाअभियान कहा जाता है के तहत यह राशि दी गई है।

इससे पूर्व जोधपुर में उत्कर्ष संस्थान चलाने वाले निर्मल गहलोत ने भी 1 करोड़ रुपये nirmal gehlot donation for ram mandir का सहयोग इस प्रस्तावित राम मंदिर हेतु किया था।

नरसी कुलरिया कौन है ?

नरसी कुलरिया जो कि संत दुला राम कुलरिया के पुत्र है। उन्होंने अपने पौत्र के जनमदिन के अवसर पर सिंथल पीठाधीश्वर संत क्षमाराज महाराज के हाथों इस धन राशि को समर्पित किया।

Nirmal gahlot कौन है ?

Utkarsh Classes के निर्देशक निर्मल गहलोत Nirmal Gehlot Utkarsh Classes Jodhpur ने अपने संस्थान को कोरोना काल में बंद होने के बाद पुनः कक्षाओ के start होने की सुचना देने के साथ ही एक करोड़ रुपये का चेक राम मंदिर ट्रस्ट को दिनांक 11 जनवरी को सोंपने जा रहे हैं.

दोनों ही महानुभाव मारवाड़ी समाज से आते हैं जहाँ एक तरफ नरसी कुलरिया सुथार समाज वही निर्मल गहलोत माली समाज से हैं.

दोनों की अपने अपने कार्यक्षेत्र में महारत है. कुलरिया जहा नेक तरफ इंटीरीयर डिजाईन में फेमस है वही उत्कर्ष क्लासेज की utkarsh classes jodhpur free course छात्रों के लिए उपयोगी है.

दान पुण्य में आगे रहने वाले नरसी कुलरिया बीकानेर जिले के नोखा गांव से ताल्लुक रखते हैं और बड़ी बड़ी धन राशि दान करने के चलते समय समय पर अखबारों और खबरों में प्रमुख स्थान भी उन्हें बखूबी मिलता है। अक्सर अखबारों के तीन से चार पन्नो में उनके धर्म कर्म में खर्च किये गए कार्यो का उल्लेख भी प्रकाशित होता है।

नरसी कुलरिया ने राम मंदिर निर्माण हेतु 2.25 करोड़ का दान दिया

वैसे राम मंदिर की बात करें तो सभी धर्म प्रेमी बढचढ़ कर सहयोग कर रहे हैं और इस भव्य मंदिर के लिए बहुत बड़ी धनराशि एकत्रित होने के प्रबल आसार है। वैसे अभी तक मारवाड़ी कम्युनिटी के लोगो ने ही सर्वाधिक दोनेशन दिया है.

कोई टिप्पणी नहीं है

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exit mobile version